any content and photo without permission do not copy. moderator

Protected by Copyscape Original Content Checker

रविवार, 4 सितंबर 2011

कमाल लाठी का......




ये लाठी भी बड़ी कमाल की  होती हैं
जिसके हाथ में आ जाये उसके ताकत की मिसाल होती हैं.
कभी किसानो पर बरसे, कभी लोकपाल समर्थको पर बरसे
कभी लखनऊ में कांग्रेसियो पर बरसे
तो कभी दिल्ली में भाजपाइओ पर गरजे
इसकी तो अपनी मदमस्त चाल होती हैं
ये लाठी तो बड़ी कमाल की  होती हैं
जिसके हाथ...............
इसे रामलीला मैदान में हुडदंगियो ने पुलिस को खिलाया
इसका न कोई अपना और न ही पराया
कभी-कभी तो प्रशासन पर मेहरबान होती है
ये ऊँच-नीच के भेदभाव से अनजान होती है
ये लाठी भी बड़ी कमाल की  होती है
जिसके हाथ में आ जाये ................

1 टिप्पणी:

  1. सीधे-सीधे "जिसकी लाठी उसकी भैंस" क्यों नहीं कहती!
    ..... ये लाठी फिलहाल यूपी में मायावती के पास है....दिल्ली में मनमोहन सिंह साहब को आगे करके,,,,, राहुल-सोनिया-चिदम्बरम- जैंसों ने अपने हाथ में ले रखा है....दिग्विजय-मनीष तिवारी जैसे लोग भी अपने हाथ में लाठी आने के आशा में बाबा रामदेव और अन्ना हजारे पर जुबानी हमला करते रहते हैं....

    उत्तर देंहटाएं